मोती की खेती का बिज़नेस कैसे शुरू करे | 2022 में मोती की खेती कैसे करें

मोतियों की खेती का बिज़नेस कैसे शुरू करे, Moti ka business kaise start kare, मोती की खेती की जानकारी, मोती क्या होता है, लागत, मुनाफा, मोती कैसे बेचे |

मोती की खेती हमारे देश भारत में बहुत ही कम होती हैं, जिस वजह से इसको अधिक मात्रा में दूसरे देशों से import किया जाता हैं। यदि हम लोग मोतियों की खेती का बिज़नेस  करते है तो हम भी इस से अधिक पैसा कमा सकते है, मोती की खेती के बिजनेस में कम पैसा लगा कर ज्यादा मुनाफा कमाया जा सकता है और नाही यह बिजनेस ज्यादा कठिन है।

   तो दोस्तो हमारे इस लेख में हम आपको मोती की खेती से संबंधित सभी जानकारी बताएंगे जैसे मोती क्या  है, मोती की खेती कैसे करे, मोतियों का  वयापार कैसे करें, और इसकी खेती में कितना मुनाफा होता है। 

अगर आप मोतियों की खेती से जुडी सभी जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो आप हमारे इस लेख को पूरा पढ़े 

मोती की खेती क्या है  

moti-ki-kheti-kaise-kare-finoacer
Moti ki kheti ka Business

मोती जिसे हम pearl भी कहते है जो हमे सीपों से प्राकृतिक (Natural) रूप से हासिल होती है, सीप एक समुंदरी जीव है। 

जिस तरह मछली पालन यानी Pisiculture में मछलियों को पाल कर उनके जरिया पैसे कमाए जाते है, ठीक उसी तरह मोतियों की खेती के लिए भी सीपों (pearl) को पाला जाता हैं।

मोती का व्यापार कैसे करे

कम निवेश में ज्यादा मुनाफा कमाना चाहते हैं तो मोतियों की खेती का व्यापार आप के लिए अच्छा विकल्प है इस व्यापार को किसी भी उम्र का व्यक्ति शुरू कर सकता है। 

इस व्यापार को शुरू करने के लिए कोई भी Qualification की जरूरत नहीं परती, सिर्फ एक ट्रेनिंग की जरूरत परती है जिस के द्वारा आप को मोतियों की खेती और इस का व्यापार कैसे करें सिखाया जाता है।

इसे भी पढ़े : केंचुआ खाद का बिज़नेस कैसे शुरू करे

मोती की खेती कैसे की जाती है 

आइये अब हम जानते है की मोतियों की खेती कैसे की जाती है और मोती की खेती का बिज़नेस कैसे किया जाता है | मोतियों की खेती शुरू करने से पहले कुछ धयान देने वाली बातें है जिनका आपको ख़ास ख्याल रखना है |

मोती की खेती का बिज़नेस स्थान, मौसम और वाटर मेंटेनेंस (Location, Water Maintenance)

सीपी से मोती तैयार करने में वाटर मेंटेनेंस, मौसम और स्थान का चुनाव बहुत ही मुख्य भूमिका निभाते है। इस लिए सीपी से मोती को तैयार करने के लिए आपको इसके सही स्थान, मौसम और Water Maintenance की सही जानकारी चाहिए।

Location : सीप एक समुंदरी जीव है, इसलिए आपको तलाब या खेत में टैंक बनाकर शुरू कर सकते ही। जो कम से कम 10×10 फीट या आप अपने अनुसार जगह का निर्माण कर सकते है।

Climate : मोती की खेती के लिए सबसे अच्छा मौसम सर्द यानी अक्टूबर से दिसंबर का माना जाता है। 

Water Maintenance :

  • Ammonia = 0.5 तक रहना चाहिए
  •     TD    = 300 से 1000 के अंदर होना
  •     PH  = 7 तक

सीपी को कहा से खरीदे ( Where to buy ) 

अब अगर आप के मन में यह सवाल आ राहा होगा के सीपो  को कहा से खरीदे, तो आप बिकुल ना घबराए क्युकी हम हमेशा अपने लेख में लोगो को पूरी जानकारी देते है।

आपको पता ही होगा के मोती का उत्पादन सीपी के द्वारा होता है, इसलिए सीप को प्राप्त करने में हमे ज्यादा दुस्वारी नहीं होती है क्योंके अब बाजारों में सीप हमे सरलता से प्राप्त हो जाते हैं।

Note: अधिक तर लोग सीपी को Kolkata से मंगवाते है या आप जहा रहते है वह के बाजारों से ला सकते है।

मोती की खेती के लिए आवश्यक सामग्री ( Raw material )

मोती की खेती के लिए यह सब जरूरी चीजें है। जो सर्जरी के शुरू से लेकर आखिरी तक सभी चीजों का नाम है, जो मोती की खेती में जरूरत परती है।

पर्ल फार्मिंग Toolkit  

  • Shell Opener
  • Mussel Holder
  • Nucleus Carrier
  • Graft Carrier
  • Graft Cutter 
  • Forceps
  • Cell Inserter
  • Incision Knife
  • Spatula
  • Operation Sealpel 

मोती बनाने की विधि (Pearl Making Process ) 

आशा करता हु के अब तक आपको मोती की खेती से जुड़ी सभी जानकारी अच्छे से समझ में आई है, चलिए अब हम ये जानते है की आखिर मोती का निर्माण कैसे किया जाता है। 

Process  

  • करीब 12 से 14 महीनो के अंदर मोती बनकर तैयार हो जाता है। 
  • सबसे पहले एक तालाब यह टैंक का निर्माण करे और उसको साफ पानी से भर दे।
  • बाजार से सीपों को लाने के बाद उसको नायलॉन बैग में रख कर पाइप के सहारे टैंक के उपर से 1.5 या 2 फीट की गहराई तक रख कर लटका देना है। 
  • फिर 12 से 15 दीनो के बाद उन्हें निकाल ले, ऐसा इस लिए किया जाता है के सीप इस माहौल में अपने आप को adopt कर ले। और इसकी मानशपेसिय नरम भी हो जाती है, जिसे इसकी सर्जरी करने में आसानी होती है। 
  • उसकी सतह पे 2 से 3 mm का छेद कर के उसके अंदर सांचे डाले जाते है। फिर उसके बाद उसे पानी में चोर दिया जाता है।
  • इसी दोरान सीपो को खाना और पानी को मेन्टेन करना परता है। [ वाटर मेंटेनेंस के बारे में आपको ऊपर में बता दिया गया है के किस तरह पानी को मेन्टेन करना होगा]।
  • जब सीपो में मोती तैयार हो जाता है तो संभल कर उसमे सर्जरी कर के मोती प्राप्त कर लेते है।
  • मोती को हासिल करने के बाद हम मोती को बाजारों में बेच देते है। [ इसको कैसे और कहा बेचना है इस लेख के नीचे बताया गया है। ]
इन्हें भी पढ़े
E commerce क्या है
online business कैसे शुरू करे
Business क्या होता है और कैसे करें

Moti ki kheti की ट्रेनिंग 

मोती की खेती या मोती का बिजनेस करने के लिए आप को ट्रेनिंग लेना बहुत जरूरी होता है।

मोती की खेती की ट्रेनिंग आप भारत के सरकारी प्रशिक्षण (Training) केंद्र, CIFA ( Central Institute of Fresh Water Aquaculture ) जो ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर में अवस्थित है। CIFA में 15 दीनो की फ्री ट्रेनिंग दी जाती है।

 यह इंस्टीट्यूट पूरे भारत में भारत सरकार द्वारा अवस्थित की गई एक ही इंस्टिट्यूट है। जिसमे सर्जरी समेत हर छोटी से छोटी चीज़े सिखाया जाता है, इस केंद्र में छात्रों, उवाओ और खास कर किसानों को मोती उत्पादन (production) पर प्रशिक्षण प्रदान कराया जाता है।

Note-: यदि आप याद रखे के मोतियों की खेती का ट्रेनिंग आप उस वेक्ति से ले जो इस Institute से सिख कर गया हो।

Moti ki खेती मे कितना इन्वेस्ट होता 

मोती की खेती में निवेश (Invest) की बात की जाये तो आप शुरुवात में करीब 3 से 4 लाख रुपये लगाकर इस व्यापार को शुरू कर सकते है. या आप 15×15 फीट की 2 गड्ढे बना कर उसमे 2000 सीपों को डालकर मोती की खेती शुरू कर सकते है। 

[ इस जगह में आप का कुल निवेश लग भग 80 हज़ार से 1.2 लाख लग सकता है ], वरना यह आप पर निर्भर करता है के आप कितना जगह का उपयोग कर रहे है]।

  • प्लेन जगह को तालाब जैसे स्ट्रक्चर में सेट करने का खर्च – 40 से 50 हज़ार। 

Note:- [ यह खर्च मोती की खेती का बिजनेस start करने से पहले लगता है ] 

  • बाजारों में एक सीप की कीमत – 8 से 22 रुपए।     
  • अन्य कर्च जैसे सीपो का खाना, बिजली का खर्च, वाटर सप्लाई etc. – 20000 से 25000 रुपये। 
Requirements Amounts
1. तालाब की निर्माण में50,000
2. सीपो में ( 2000×15 )30000
3. और अनिय खर्च ( Others )20000
Total Invest1,00,000

Note :-   यह इन्वेस्ट आप के ऊपर निर्वर करता है के आप अपने मोती की खेती का बिज़नस में कितना जगह और कितने सीपो का उपियोग कर रहे है। अगर आप ज्यादा जगह और सीपो का इस्तेमाल करते है तो इन्वेस्ट ज्यादा लगेगा।                   

Moti ki kheti में कितना कमा सकते है

मोती की बिजनेस करने में फायदा तो बहुत होता है लेकिन इस को करने में समय ज्यादा लगता है। यानी एक सीप से हमे दो मोती प्राप्त होती है, तो यह दो मोती को तयार होने में लग भाग 12 से 14 महीने लग जाते है। 

Note:- यह समय सिर्फ डिजाइनर मोती को बनने में लगता है।

तभी जाकर आप इस बिजनेस को कर के अच्छा खासा मुनाफा प्राप्त कर सकते है।

RequirementsAmounts
70% सीपो से मोती प्राप्त होती है
1400×2 = 2800
1. मोती ( ग्रेड A से कुल 30% )
1200 मोती औसत दर 2500 रूपए पर यूनिट मोती की
3,00,000
2. मोती ( ग्रेड B कुल का 30% )
1200 मोती औसत दर 150 रूपए पर Unit मोती की
1,80,000
3. मोती ( ग्रेड C से कुल का 10% )
1200 मोती औसत दर 150 रूपए पर unit मोती की
40,000
TOTAL INCOME 5,40,000

                         

TOTAL PROFIT :-

= Total Income – Total Invest

= Rs. 5,40,000  –  Rs.1,00,000

=  Rs. 4,40,000

Note :- यह प्रॉफिट केवल आपके इन्वेस्ट के ऊपर निर्वर करता है।                                                                       

मोती कैसे बेचे ( How to sell )

दोस्तो किसी भी बिजनेस को आगे बढ़ाने और उसे एक कामयाब बिजनेस बनाने के लिए उस बिजनेस का सफल होना तभी संभव होता है जब उसके लिए उचित बाजार उपलब्ध हो। ठीक इसी तरह अगर आप भी अपने मोतियों की खेती का बिज़नस को आगे बढ़ाना चाहते है और इसे एक सफल बिजनेस बनाना चाहते है तो आप को इसकी मार्केटिंग भी करनी होगी।

मोती को दो तरीको (Methods) से आप बेच सकते है।  

1.ऑफलाइन मेथड ( Offline Methods )

2.ऑनलाइन मेथड ( Online Methods )

ऑफलाइन मेथोड्स ( Offline Methods )

  • आप बड़े जेवेलरी कंपनी से संपर्क कर के उन्हें मोती सप्लाई कर सकते है। 
  • या आप बड़े बड़े Wholeseller से संपर्क कर के उन्हें मोती मोती सप्लाई कर सकते है। 
  • या फिर आप बैनर और पोस्टर के द्वारा भी अपने बिजनेस की मार्केटिंग कर सकते लेकिन ये तरीका बहुत महंगा (Costly) होता है।    
  • दुसरे सहरो जैसे Mumbai, Ahmedabad, Jaipur, Surat etc. इन सभी जगहों में जाकर आप अपने मोती को बेच सकते है। 

ऑनलाइन मेथोड्स ( Online Methods )

आप सोशल मीडिया ( Social media ) के द्वारा भी अपने बिजनेस की मार्केटिंग कर सकते है । 

E-Commerce जैसे बहुत सारे प्लेटफार्म जैसे Amazon, Flipkart पर Seller बन कर अपने मोती को बेच सकते है। 

FAQ

Q 1: मोती की खेती की ट्रेनिंग कितने दिन की होती है?

मोती की खेती की ट्रेनिंग 15 दिनों तक होती है |

Q 2 : मोती कितने प्रकार के होते हैं?

मोती के कुल 8 प्रकार के होते है |

Q 3 : एक मोती की कीमत कितनी होती है ?

आज के समाये में एक मोती की कीमत 300 से 1500 रूपये तक होती है |

Conclusion                         

मुझे आशा है की अब आपको मोतियों की खेती कैसे की जाती है, और मोतियों की खेती का बिज़नेस कैसे शुरू करे, की सभी जानकारी मिल गयी होगी | अगर आपको इस लेख से कुछ सिखने को मिला तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे | 

2 thoughts on “मोती की खेती का बिज़नेस कैसे शुरू करे | 2022 में मोती की खेती कैसे करें”

Leave a Comment